Mukhyamantri Bal Shramik Vidya Yojana 2021

//

Mukhyamantri Bal Shramik Vidya Yojana 2021

Mukhyamantri Bal Shramik Vidya Yojana 2021: दोस्तों मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा श्रमिक परिवार के बच्चो को अच्छा जीवन प्रदान करने के लिए की गयी है! इस योजना के अंतर्गत UP के अनाथ बच्चो तथा मजदूरों के बच्चों को! शिक्षा प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी! इस योजना के तहत राज्य के बालको को 1000 रूपये प्रतिमाह और बालिकाओं को! 1200 रूपये प्रतिमाह राज्य सरकार द्वारा मुहैया कराये जायेगे!

Mukhya Mantri Bal Shramik Vidya Yojana 2020

UP Bal Shramik Vidya Yojana / Bal Shramik Vidya Yojana

UP Bal Shramik Vidya Yojana के अंतर्गत राज्य के जो श्रमिक बच्चे 8वीं, 9वीं और 10वीं कक्षा में पढ़ रहे है! उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रतिवर्ष 6000 रूपये की अतिरिक्त सहायता प्रदान की जाएगी! इस UP Bal Shramik Vidya Yojana 2021 के तहत इस वर्ष 2000 बच्चो को लाभान्वित किया जाएगा! राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहते है! तो उन्हें इस योजना के तहत आवेदन करना होगा! यह UP मजदूर बाल शिक्षा योजना श्रमिकों के बच्चो को स्वस्थ जीवन और समृद्ध जीवन जीने में सक्षम बनाएगी! 8 से 18 साल के बच्चो को स्कूल-कॉलेज में होना चाहिए! लेकिन खराब हालात के कारण वह श्रम से जुड़ जाते है! ऐसे बच्चो को इस बाल श्रमिक विद्या योजना के तहत लाभ दिया जाएगा!

2020-11-23_01-22-29

UP Bal Shramik Vidya Yojana 2021 Highlights

योजना का नाम मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना
शुरू की गयी मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के द्वारा
विभाग श्रम विभाग, उत्तर प्रदेश
उद्देश्य आर्थिक सहायता प्रदान करना
लाभार्थी राज्य के गरीब बालक बालिका

Mukhya Mantri Bal Shramik Vidya Yojana 2021 का उद्देश्य 

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते है! कि राज्य में बहुत से ऐसे लोग है! जो श्रम करके अपने परिवार का भरण पोषण करते है! जब बचपन में बच्चे अपने पारिवारिक खर्चों के लिए बाल श्रम करने पर मजबूर होते है! तो उनके शारीरिक एवं मानसिक विकास पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है! मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2020 के तहत राज्य सरकार बालकों को 1000 रूपये महीना और बालिकाओं को 1200 रूपये महीना की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी! इससे बच्चो की पढाई की व्यवस्था की जा रही है! इस योजना के जरिये श्रमिक बच्चो के भविष्य को उज्जवल बनाना! इस योजना के जरिये श्रमिकों के बच्चों को बाल श्रमिकों के रूप में काम करने से रोकने के लिए मासिक वितीय सहायता प्रदान करेगा!

Bal Shramik Vidya Eligibility Criteria

2020-11-23_01-47-15

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना का आरंभ कब हुआ 

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना का आरंभ 12 जून 2020 को बाल श्रमिक निषेध दिवस के दिन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा किया गया था!

UP Bal Shramik Vidya Yojana पहला चरण 

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना के पहले चरण में 2000 श्रमिकों के बच्चों को कवर करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है! इस योजना के सफलतापूर्वक संचालन के लिए सरकार द्वारा ट्रायल के आधार पर उत्तर प्रदेश के 10 जिलों में ऐसी ही एक योजना आरंभ की थी! जिसके बाद सरकार द्वारा मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना का आरंभ किया गया है! इस योजना के अंतर्गत 8 से लेकर 18 साल की उम्र के बच्चे शामिल किए गए है!

मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना का आरंभ कब हुआ 

  • UP Bal Shramik Vidya Yojana छात्रों को एक वित्तीय सहायता प्रदान करती है! जिससे वे अपनी पढ़ाई जारी रख सकें!
  • इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के गरीब बच्चों को प्रदान किया जाएगा!
  • इस योजना के तहत राज्य के बालकों को 1000 रूपये प्रतिमाह और बालिकाओं को 1200 रूपये प्रतिमाह राज्य सरकार द्वारा मुहैया कराये जाएंगे!
  • मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 के अंतर्गत राज्य के जो श्रमिक बच्चे 8 वीं, 9वीं और 10वीं कक्षा में पढ़ रहे है! उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रतिवर्ष 6000 रूपये के अतिरिक्त सहायता प्रदान की जाएगी!
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए लोग अधिकारिक वेबसाइट (लांच होने के लिए) में UP बाल श्रमिक विद्या योजना 2021 पंजीकरण/ आवेदन पत्र भरकर ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे!
  • इस योजना के तहत अधिक छात्रों को लाभान्वित करने और उन्हें बाल श्रमिक के रूप में काम करने से रोकने के लिए यूपी मजदूर बाल शिक्षा योजना शुरू की जाएगी!

UP Bal Shramik Vidya Yojana 2021 के लिए आवश्यक दस्तावेज (पात्रता)

  • आधार कार्ड 
  • पहचान पत्र 
  • निवास प्रमाण पत्र 
  • मोबाइल नंबर 
  • पासपोर्ट साइज फोटो 
  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए!
  • आवेदक की आयु 8 से 18 वर्ष होनी चाहिए!

यह भी देंखे: https://cscdigitalseva.org/mukhya-mantri-kisan-kalyan-yojana

Uttar Pradesh Shramik Vidya Yojana की चयन प्रक्रिया 

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल श्रमिक विद्या योजना के अंतर्गत बच्चों की पहचान श्रम विभाग के अधिकारियों की ओर से सर्वेक्षण/ निरीक्षण में, ग्राम पंचायत, स्थानीय निकाय चाइल्डलाइन अथवा विद्यालय प्रबंध समिति द्वारा किया जाएगा! अगर माता-पिता या फिर दोनों किसी लाइलाज रोग से पीड़ित है! तो उनके बच्चों को चयन की प्राथमिकता दी जाएगी! इस प्राथमिकता के लिए चीफ मेडिकल ऑफिसर के द्वारा दिया गया एक सर्टिफिकेट देना होगा! भूमिहीन परिवारों और महिला प्रमुख परिवार के चयन के लिए 2011 की जनगणना की सूची का उपयोग करके किया जाएगा! प्रत्येक लाभार्थी की चयन की मंजूरी के बाद इसे e-tracking सिस्टम पर अपलोड किया जाएगा!

How To apply UP Bal Shramik Vidya Yojana

उत्तर प्रदेश के जो भी इच्छुक लाभार्थी इस योजना का लाभ उठाना चाहते है! उन्हें अभी इंतजार करना होगा! क्योंकि अभी इस मुख्यमंत्री श्रमिक बाल विद्या योजना 2021 के तहत आवेदन करने के लिए आवेदन प्रक्रिया को शुरू नहीं किया गया है!

Leave a Comment

close